Pakistan Team,Tanvir Ahmad and Basit Ali on Imam-ul-Haq – Cricket World Cup 2019 | इमाम उल हक ने कहा- वनडे 1 से 3 नंबर तक के बल्लेबाजों का खेल; तनवीर ने कहा- वो पर्ची क्रिकेटर


  • पाकिस्तान सेमीफाइनल की दौड़ से लगभग बाहर, पूर्व क्रिकेटरों ने टीम पर निकाला गुस्सा
  • पाक टीम के ओपनर और इंजमाम के भतीजे पर तनवीर अहमद और बासित अली बरसे

Dainik Bhaskar

Jul 04, 2019, 04:01 PM IST

खेल डेस्क. विश्व कप में सेमीफाइनल की रेस से पाकिस्तान टीम का बाहर होना करीब-करीब तय है। इसके साथ ही सरफराज अहमद की कप्तानी वाली टीम पर पूर्व क्रिकेटरों का गुस्सा फूट पड़ा है। टीम के ओपनर इमाम उल हक के एक बयान ने इस गुस्से में आग में घी का काम किया। इमाम ने बुधवार शाम एक बयान में कहा- वनडे क्रिकेट 1 से तीन नंबर के बल्लेबाजों का खेल है। मुझे अफसोस है कि मैं व्यक्तिगत तौर पर ज्यादा रन नहीं बना सका। इमाम के इस बयान पर पूर्व क्रिकेटर तनवीर अहमद ने कहा- इमाम को कोई नहीं जानता, वो पर्ची क्रिकेटर से ज्यादा कुछ नहीं है। वर्ल्ड कप में पाकिस्तान को अपना आखिरी मैच शुक्रवार को बांग्लादेश से खेलना है। 

 

फोन पर बनती है पाकिस्तान टीम

इमाम उल हक पाकिस्तान के मुख्य चयनकर्ता इंजमाम उल हक के सगे भतीजे हैं। उन पर अकसर ये आरोप लगता है कि वो इंजमाम की वजह से टीम में हैं। बुधवार को इमाम से मीडिया ने बातचीत की। एक सवाल के जवाब में इमाम ने कहा, “वनडे क्रिकेट तो 1 से 3 नंबर के बल्लेबाजों का खेल है। हां, ये बात मैं मानता हूं कि मैं खुद ज्यादा रन नहीं बना सका।” इमाम के इस बयान पर दो पूर्व क्रिकेटर तनवीर अहमद और बासित अली भड़क गए। एक टीवी शो में तनवीर ने कहा, “इमाम खुद क्या है? उसके नाम की पर्ची पहुंचती है और वो टीम में आ जाता है। सच्चाई ये है कि पाकिस्तान की टीमें अब फोन पर ही बन जाती हैं।”

 

बाकी बल्लेबाजों को तो घर भेज देना चाहिए

बासित अली ने इमाम के बयान पर कहा, “ये क्या बेहूदा बयान दिया है इंजमाम के भतीजे ने। अगर वनडे 3 नंबर तक के बल्लेबाजों का ही खेल है तो फिर इसके सारे बल्लेबाजों को तो घर भेज देना चाहिए। अगर वो इंजमाम का भतीजा है तो फिर दोगुने रन बनाकर दिखाए। खुद इंजमाम 4 या 5 नंबर पर बल्लेबाजी करते थे। एक क्रिकेटर को क्रिकेट की भाषा भी आनी चाहिए। इस तरह वो मुल्क की विदेशी जमीन पर बेइज्जती कर रहे हैं।”

 

पीएसएल के खिलाड़ी क्यों?

तनवीर अहमद ने पाकिस्तान की सिलेक्शन कमेटी पर गंभीर सवाल उठाए। उन्होंने यहां तक कहा कि इंजमाम इंग्लैंड गए ही क्यों थे? उनके वहां जाने से फायदा होने के बजाए टीम को नुकसान हुआ। तनवीर ने कहा, “हमारी वर्ल्ड कप की टीम आखिर कैसे अच्छी बन सकती है। यहां तो सारे सिलेक्शन की बुनियाद पाकिस्तान क्रिकेट लीग यानी पीएसएल है। क्या भारत में आईपीएल के आधार पर टीम बनती है? इसके बाद रही सही कसर इमाम जैसे सिफारिशी क्रिकेटर पूरी कर देते हैं।”



Source link

Recommended For You

About the Author: Vivek Jaiswal