Sanjay Manjrekars old habit of doing evil Yuvraj Ganguly and Pollard were also reprimanded


Publish Date:Thu, 04 Jul 2019 07:41 PM (IST)

 नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व बल्लेबाज संजय मांजरेकर विश्व कप में अपनी कमेंट्री की वजह से काफी चर्चा में आ गए हैं। भारत व बांग्लादेश के बीच मैच के दौरान वो धौनी के बारे में कमेंट करके सबके निशाने पर आ गए थे और सोशल मीडिया पर उनकी जबरदस्त खिंचाई हुई थी। पिछले दिनों उन्होंने रवींद्र जडेजा के खिलाफ ट्वीट किया था और इसके बाद जडेजा ने उन्हें करारा जबाव देते हुए लिखा था कि मैंने आपसे दोगुने मैच खेले हैं और अब भी खेल रहा हूं। आप दूसरों की उपलब्धि की इज्जत करना सीखो। संजय ने कहा कि कि मुझे टुकड़ों में खेलने वाले खिलाड़ी पसंद नहीं हैं जैसे अभी जडेजा वनडे क्रिकेट में हैं। टेस्ट में वो एक शुद्ध गेंदबाज हैं, लेकिन वनडे में मैं एक बल्लेबाज और एक स्पिनर को रखना चाहूंगा। 

ये कोई पहला मौका नहीं है जब मांजरेकर ने कोई विवादास्पद बयान दिया है। उन्होंने विराट के बारे में कहा था कि वो टेस्ट क्रिकेट के लायक हैं ही नहीं। सात वर्ष पहले ट्वीट करके उन्होंने कहा था कि वो इस प्रारूप के लिए तैयार नहीं हैं। 2012 में उन्होंने एक ट्वीट किया था जिसमें लिखा था कि मैं टीम से लक्ष्मण को निकालकर रोहित का शामिल करना चाहूंगा। रोहित में लंब समय की प्लानिंग दिखती है। विराट को मैं एक और टेस्ट में मौका दूंगा वो भी केवल ये देखने के लिए कि वो इस प्रारूप में खेल सकते हैं या नहीं। मांजरेकर के इस ट्वीट के वक्त विराट ऑस्ट्रेलिया दौरे पर थे और उन्होंने अगले ही टेस्ट में 44 व 75 रन की पारी खेली थी। वहीं इस वक्त विराट अभी टेस्ट के बेस्ट बल्लेबाज माने जाते हैं। 

संजय मांजरेकर ने युवराज सिंह और किरोन पोलार्ड को भी अपना निशाना बनाया था। युवराज जब खेलते थे उस वक्त वो उनकी खेल में काफी कमियां निकालते थे। पोलार्ड को उन्होंने ब्रेनलेस बताया था। इससे वो काफी नाराज हुए थे। पोलार्ड ने उन्हें जबाव देते हुए कहा था कि क्या आपको लगता है कि आप कुछ अच्छा बोल सकते हैं क्योंकि आपको बोलने के पैसे मिलते हैं तो आप फालतू बातें करते रहो। युवी के रियाटरमेंट पर संजय ने उन्हें बधाई दी तो उन्होंने कहा कि शुक्रिया संजय, कभी-कभी आलोचक भी आपमें अच्छी बातें देख लेते हैं। 

हाल ही में टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने संजय मांजरेकर ने बारे में कहा था कि वो सुर्खियां पाने के लिए नकारात्मक बातें करते हैं। सौरव ने कहा था कि ट्विटर पर उनके कमेंट उनकी बल्लेबाजी की तरह ही है जो बेमतलब की होती है। वो सबका ध्यान इस तरह से अपनी तरफ खींचना चाहते हैं। यानी ये पहला मौका नहीं है जब संजय मांजरेकर ने किसी क्रिकेटर के लिए निगेटिव बात की है और उन्हें करारा जबाव मिला हो। यानी ये उनकी आदत है कहना और सुनना। 

Posted By: Sanjay Savern





Source link

Recommended For You

About the Author: Vivek Jaiswal