ऋषभ पंत को लेकर टेंशन में टीम इंडिया, उनकी एक गलती करा सकती है वर्ल्ड कप से बाहर!


ऋषभ पंत की एक गलती करा सकती है वर्ल्ड कप से बाहर, टेंशन में टीम इंडिया!

टीम इंडिया के कोच श्रीधर ने कहा कि ऋषभ पंत की फील्डिंग कमजोर है, उनकी थ्रो तकनीक भी सुधारने की जरूरत है.

News18Hindi

Updated: July 4, 2019, 8:23 AM IST

आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 में ऋषभ पंत ने अबतक दो मैचों में अच्छा प्रदर्शन किया है. नंबर चार पर खेलते हुए उन्होंने दो पारियों में 80 रन बनाए हैं. इंग्लैंड के खिलाफ उन्होंने 32 रन बनाए वहीं बांग्लादेश के खिलाफ उनके बल्ले से 48 रन निकले. पंत के आने से टीम इंडिया की बैटिंग मजबूत हो गई है, हालांकि उनकी प्लेइंग इलेवन में एंट्री से टीम इंडिया की टेंशन भी बढ़ गई है. दरअसल पंत की फील्डिंग टीम इंडिया के लिए चिंता का सबब है.

बल्ले से आक्रामक खेल दिखाने वाले पंत फील्डिंग में कमजोर दिख रहे हैं. यही कारण है कि कप्तान विराट कोहली तथा महेंद्र सिंह धोनी को पंत को मैदान पर कहीं ऐसी जगह छुपाना पड़ रहा है, जहां गेंद कम आए. बांग्लादेश के खिलाफ खेले गए मैच के बाद टीम इंडिया के फील्डिंग कोच आर श्रीधर ने कहा, ‘पंत के साथ काफी काम करने की जरूरत है. सबसे पहले तो उन्हें अपनी थ्रो करने की तकनीक को सुधारना होगा और साथ ही यह मानसिकता लानी होगी कि वह मैदान पर फील्डिंग कर रहे हैं. लेकिन, इस समय हमारे पास अभी जो है, हमारी कोशिश उसे बेहतर तरीके से इस्तेमाल करने की है. इसलिए विराट कोहली और धोनी हमेशा उन्हें सही समय पर सही जगह लगाने के लिए सोचते रहते हैं ताकि उनके अंदर से सर्वश्रेष्ठ निकाला जा सके।.पिछले मैच में उन्होंने पांच रन बचाए थे जो हमारे लिए बोनस था. उन्होंने एक कैच भी लिया था.”

ऋषभ पंत को लेकर टेंशन में टीम इंडिया

पंत को बांग्लादेश के खिलाफ मैच में बार-बार बाउंड्री लाइन से वापस सर्किल में लाया जा रहा था. वह पूरी बाउंड्री को संभाल नहीं पा रहे थे. पंत बुमराह की गेंद पर एक कैच को पकड़ नहीं पाए थे, जिस पर विराट कोहली नाराज हुए थे. दिनेश कार्तिक जैसे खिलाड़ियों के रहते पंत का काम और मुश्किल हो गया है क्योंकि कार्तिक भी विकेटकीपर होने के साथ-साथ अच्छे फील्डर हैं. धोनी भी अच्छी फील्डिंग कर लेते हैं. इस वजह से पंत के लिए फील्डिंग का मानक काफी ऊंचा हो गया है.श्रीधर ने कहा, ‘विकेटकीपर होते हुए भी कार्तिक अच्छे फील्डर हैं. आपने देखा होगा कि उन्होंने बैकवर्ड प्वाइंट पर कुछ अच्छे बचाव किए. यह हमारे लिए बड़ी बात है. पंत वो खिलाड़ी हैं जो फील्डिंग में सुधार कर रहे हैं. उन्हें मैदान पर चौकन्ना रहने के लिए थोड़ी और मेहनत करने की जरूरत है.’

ICC World Cup : तब सचिन-सहवाग-गंभीर पर उठाए थे सवाल, अब खुद के धीमेपन पर चुप क्यों हैं धोनी





Source link

Recommended For You

About the Author: Vivek Jaiswal