विश्व कप के सेमीफाइनल की 3 टीमें तय, चौथी टीम पाकिस्तान को बनना है तो बड़े अंतर से जीत दर्ज करनी होगी








Last Updated:
गुरुवार, 4 जुलाई 2019 (10:58 IST)


लंदन। दुनियाभर के क्रिकेटप्रेमियों के जेहन में यह सबसे बड़ा सवाल इस वक्त यह तैर रहा है कि 2019 के विश्व कप के सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया, भारत और न्यूजीलैंड के बाद चौथी टीम कौनसी होगी। इस पेंच में पाकिस्तान फंसा हुआ है और उसे वो कौनसा करिश्म करना होगा जिसकी वजह से वह सेमीफाइनल खेल सके?


बुधवार को मेजबान इंग्लैंड की टीम ने न्यूजीलैंड को 119 रनों से हराकर सेमीफाइनल की सीट बुक की। इसी के साथ यह जोड़तोड़ शुरु हो गई कि पाकिस्तान को 5 जुलाई को बांग्लादेश के खिलाफ होने वाले अगले मैच में किस समीकरण से मुकाबला खेलना होगा, जिसकी वजह से इस विश्व कप में उसका वजूद बचा रहे। यही मैच विश्व कप 2019 की चौथी टीम का फैसला करेगा।

इंग्लैंड के हाथों न्यूजीलैंड की हार के बाद उसके 9 मैचों में 11 अंक ही हुए और उसका नेट रन रेट +0.175 है। पाकिस्तान के 8 मैचों में 9 अंक है और उसका नेट रन रेट -0.792 है। पाकिस्तान को सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए बांग्लादेश को बड़े अंतर से हराना होगा ताकि बेहतर नेट रन रेट के साथ वह न्यूजीलैंड को पछाड़ सके।

एक और पेंच यह फंसेगा कि यदि बांग्लादेश चमत्कारिक प्रदर्शन करके पाकिस्तान को अपने अंतिम लीग मैच में हरा देता है तो ‍एक बार फिर रोचक स्थिति बनेगी। बांग्लादेश के 8 मैचों में 7 अंक है और उसका नेट रन रेट -0.195 है। बांग्लादेश की जीत से 9 अंकों तक तो पहुंचा देगी लेकिन वह पाकिस्तान का खेल बिगाड़ देगा। ऐसी हालत में न्यूजीलैंड सेमीफाइनल खेलने का हकदार हो जाएगा क्योंकि उसका नेट रन रेट पाकिस्तान से बेतहर होगा।


बारिश का साया पाकिस्तान के मंसूबों पर पानी न फेर दे : पाकिस्तान टीम को बांग्लादेश के खिलाफ होने वाले मैच में बारिश का साया भी डरा रहा है। लंदन में 5 जुलाई को होने वाले इस मैच में यदि बारिश आ जाती है तो पाकिस्तान टीम का विश्व कप से बाहर होने पर मुहर लग जाएगी और न्यूजीलैंड बेहतर नेट रन रेट से सेमीफाइनल खेलने का हकदार हो जाएगा। वैसे भी इस विश्व कप में अब तक 4 मैच बारिश से धुल चुके हैं।


जानिए कैसे नेट रन रेट निकाला जाता है : किसी भी टीम का नेट रन निकालना बेहद आसान है। टूर्नामेंट में टीम ने जितने भी रन बनाए हैं, उन्हें उन ओवरों से भाग दे दीजिए, जितने उसने खेले हैं। दूसरी भाषा में इसे आप प्रति ओवर बल्लेबाजी का औसत भी कह सकते हैं। अब उस टीम के खिलाफ प्रति ओवर कितने रन बने हैं, ये निकाल लें यानी गेंदबाजी औसत। इसके बाद नेट रन रेट निकल आएगा।





Source link

Recommended For You

About the Author: Vivek Jaiswal