पाकिस्‍तानी बल्‍लेबाज ने करियर बचाने के लिए मांगी माफी, स्‍पॉट फिक्सिंग में मिली थी सजा-pakistan batsman sharjeel khan demands apology for 2017 spot fixing case | sports – News in Hindi


पाकिस्‍तानी बल्‍लेबाज ने करियर बचाने के लिए मांगी माफी, स्‍पॉट फिक्सिंग में मिली थी सजा

शारजील खान.

भाषा

Updated: August 19, 2019, 11:21 PM IST

पाकिस्तान (Pakistan) के दागी सलामी बल्लेबाज शरजील खान (Sharjeel Khan) ने अपने करियर को दोबारा ढर्रे पर लाने की दिशा में पहला कदम उठाते हुए सोमवार को 2017 के स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण (Spot Fixing case) में शामिल होने के लिए माफी मांगी. स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण के कारण शरजील को पांच साल के लिए प्रतिबंधित किया गया था. 30 साल के शरजील ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) के भ्रष्टाचार रोधी अधिकारियों से मुलाकात की जिन्होंने उन्हें रिहैबिलिटेशन प्रक्रिया से गुजरने को कहा. इससे वह खेल में वापसी की राह पर चल पड़े हैं.

माफी मांगते हुए दिया ये बयान
पीसीबी की ओर से जारी बयान में शरजील के हवाले से कहा गया, ‘मैंने पीसीबी, टीम के अपने साथियों, प्रशंसकों और परिवार से सबको शर्मसार करने वाले अपने गैरजिम्मेदाराना बर्ताव के लिए बिना शर्त माफी की पेशकश की. मैं माफी का आग्रह करता हूं और आश्वासन देता हूं कि भविष्य की अपनी गतिविधियों में अधिक जिम्मेदारी दिखाऊंगा.’

शरजील खान ने 2017 में पीएसएल में स्‍पॉट फिक्सिंग की थी.

पीसीबी ने रखी थी शर्त 
पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड ने पिछले दिनों शरजील के सामने माफी मांगने की शर्त रखी थी. पीसीबी के एक अधिकारी ने कहा था कि शरजील को सितंबर में होने वाले कायदे आजम ट्रॉफी में खेलने का मौका मिल सकता है लेकिन इसके लिए उन्हें स्पॉट फिक्सिंग में अपनी संलिप्तता स्वीकार करनी होगी और अपने कार्यों के लिए माफी मांगनी होगी.

PSL में की थी फिक्सिंंग 

शरजील को पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) में फिक्सिंग का दोषी पाया गया था. PSL-2 के पहले ही मैच में शरजील खान और खालिद लतीफ इस्लामाबाद यूनाइटेड के लिए खेल रहे थे और दोनों को 5 एंटी करप्शन संहिताओं के उल्लंघन का दोषी पाया गया था. इसके बाद 30 अगस्त 2017 को शरजील खान पर 5 साल का बैन लगाया गया.

यह भी पढ़ें- साउथ अफ्रीका के खिलाफ पांडे-अय्यर को मिली कप्तानी

इंडिया का बैटिंग कोच बनने की दौड़ में हैं ये दिग्‍गज


First published: August 19, 2019, 10:18 PM IST





Source link

Recommended For You

About the Author: Vivek Jaiswal