harbhajan singh trolls adam gilchrist: 18 वर्ष बाद गिलक्रिस्ट ने उठाया हैटट्रिक पर ‘सवाल’, हरभजन सिंह बोले- रोंदू ही रहोगे – harbhajan singh trolls adam gilchrist for no drs jibe on his test hat-trick


नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

हैटट्रिक पर सवाल उठाने पर हरभजन सिंह ने एडम गिलक्रिस्ट को कहा 'रोंदू'
हाइलाइट्स

  • हरभजन सिंह और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों में टशन जगह जाहिर रही है
  • एक मामले को लेकर वह और एडम गिलक्रिस्ट आमने-सामने आ गए
  • दरअसल, 2001 में हरभजन सिंह ने ऐतिहासिक टेस्ट हैटट्रिक ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ली थी
  • अब 18 वर्ष बाद गिलक्रिस्ट ने इशारों ही इशारों में उस पर सवाल उठा दिया

नई दिल्ली

18 वर्ष पूर्व ली गई हैटट्रिक पर इशारों ही इशारों में सवाल उठाने पर हरभजन सिंह ने एडम गिलक्रिस्ट पर कड़ा प्रहार किया है। उन्होंने सीधा हमला बोलते हुए गिलक्रिस्ट को रोंदू तक बोल दिया। दरअसल, हरभजन सिंह भारत के लिए टेस्ट में हैटट्रिक लेने वाले पहले गेंदबाज हैं। उन्होंने 2001 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कोलकाता में रिकी पॉन्टिंग, एडम गिलक्रिस्ट और शेन वॉर्न को लगातार तीन गेंदों पर चलता करते हुए ऐतिहासिक हैटट्रिक ली थी। वह टेस्ट में हैटट्रिक लेने वाले पहले भारतीय बने थे।

गिली ने किया था यह ट्वीट

जब जसप्रीत बुमराह ने वेस्ट इंडीज में हैटट्रिक पूरी की तो एक क्रिकेट फैन ने 18 वर्ष पुराने विडियो को ट्वीट करते हुए उस हैटट्रिक की याद ताजा कर दी। फैन ने अपने ट्वीट में गिलक्रिस्ट को भी टैग किया। सोशल मीडिया पर काफी ऐक्टिव रहने वाले गिली ने ट्वीट को रीट्वीट किया और लिखा- नो डीआरएस…।

दरअसल, दूसरे विकेट के रूप में भज्जी की गेंद पर गिलक्रिस्ट को अंपायर ने LBW दिया था, लेकिन रिप्ले में गेंद पैड से पहले बैट पर लगती दिख रही थी। अंपायर इस बात को भांप नहीं पाए थे। उस वक्त डीआरएस नहीं हुआ करता था तो गिलक्रिस्ट के पास पविलियन लौटने के अलावा कोई और रास्ता नहीं था।

लिखा- रोना बंद करो दोस्त

गिलक्रिस्ट ने जब उस ओर इशारा किया तो हरभजन सिंह ने कॉमेंट करने से खुद को रोक नहीं सके। सबसे सफल भारतीय टेस्ट गेंदबाजों में से एक भज्जी ने गिली के ट्वीट को रीट्वीट किया और लिखा- आप सोच रहे हैं कि अगर पहली गेंद पर आउट नहीं होते तो लंबे समय तक संघर्ष कर पाते? इन बातों पर रोना बंद करो दोस्त..। सोचा आप खेल के दिनों के बाद समझदारी से बात करेंगे.. लेकिन कुछ चीजें कभी नहीं बदलती हैं, इसका मुख्य उदाहरण है हमेशा रोना…। हालांकि भज्जी ने कुछ देर बाद इस ट्वीट को हटा लिया।

NBT

भज्जी को याद आई अपनी हैटट्रिक

उल्लेखनीय है कि बुमराह ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट में डैरेन ब्रावो, शाहमार ब्रूक्स (0) और रोस्टन चेज को आउट करते हुए हैटट्रिक पूरी की थी। इसमें जेच का विकेट डीआएस से मिली था। इसके बाद भज्जी ने अपनी ऐतिहासिक हैटट्रिक पर कहा था कि तीसरा विकेट (शेन वॉर्न) उन्हें डीआरएस की ही तरह मिला था। उन्होंने कहा, ‘मैंने LBW या बोल्ड के लिए शेन वॉर्न को यॉर्कर फेंकी अगर वॉर्न ने इसे सीधा खेला होता तो वह उस गेंद को आराम से खेल जाते, लेकिन मेरी किस्मत ने साथ दिया और वह इसे फ्लिक करने चले गए। और सदगोपन रमेश ने शानदार रिफ्लैक्स कैच किया। डिसिजन तीसरे अंपायर के पास भेजा गया और मुझे विकेट मिल गई।

हरभजन सिंह

हरभजन सिंह



Source link

Recommended For You

About the Author: Vivek Jaiswal