प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के आदेशों की अवहेलना,एक महीने से ज्यादा बीत जाने पर नही भी नही कटे विधुत कनेक्शन

Edited By: अशोक ठाकुर, इंदौरा
अपडेटेड: a month ago IST
Today Top News

एक तरफ जहां हिमाचल सरकार प्रदूषण के प्रति कड़ा रुख किये हुए है वही कुछ सम्बधित विभाग के कर्मचारी राजनीतिक दवाब के चलते किसी भी कड़ी कार्यवाही से कतरा रहे हैं यह मामला विधानसभा क्षेत्र इंदौरा में सामने आया है बताते चले कि प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड शिमला के सेक्रेटरी डॉ आरके प्रर्थ द्वारा सितम्बर महीने की 15 तारीख को जिला कांगड़ा में बीस उद्योगों के प्रदूषण सबंधित मापदंड पूरे न होने के चलते उनके बिजली के कनेक्शन तुरंत काटने के आदेश जारी किए गए थे किंतु आलम यह है कि एक महीने से ऊपर बीत जाने पर भी डमटाल स्थित विधुत्त विभाग द्वारा न तो कोई कार्यवाही की गई और न ही उनके कनेक्शन काटे गए है 
 
क्या कहते है सेक्रेटरी प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड
वही जब सेक्रेटरी प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड डॉ आरके पर्थ से इस बारे दूरभाष पर बात की गई तो उन्होंने बताया कि उनके द्वारा पिछले महीने ही सभी डिफाल्टर के विधुत्त कनेक्शन काटने के आदेश जारी कर दिए गए थे व सभी सबंधित विभागों को इसकी प्रतिलिपि भेज दी गयी थी
 
क्या कहते है एक्सईएन विधुत्त विभाग मण्डल फतेहपुर
वही जब मंडल  एक्सईएन विधुत्त विभाग से बात की गई तो उन्होंने बताया कि हमारे पास आदेश आये थे जिन्हें हमने संबंधित क्षेत्र अधिकारियों को आदेश जारी कर दिए गए है
 
वही जब विधुत्त विभाग डमटाल के एसडीओ नवदीप धीमान से इस बारे बात की गई तो उन्होंने किसी भी प्रकार आदेश प्राप्त होने से इनकार कर दिया
 
वही कुछ उद्योगिक मालिकों ने इस पर कड़ा संज्ञान लेते हुए कहा कि उनके बिजली के कनेक्शन मात्र वाट्सअप सन्देश भेज कर ही काट दिए गए थे किन्तु राजनीतिक पहुंच के चलते इन पर कार्यवाही करने से विभाग भी कन्नी कतरा रहा है
 
 
 
 

अन्य ख़बरें

loading...