तिलक राज गौतम ने पेश की ईमानदार की मिसाल, 34,000 रुपये भरा पर्स लौटाया

Edited By: ललित ठाकुर,पधर
अपडेटेड: 6 days ago IST
Today Top News

कहते है कि ईमानदार इंसान एक दिन बहुत ऊपर तक अपनी छाप छोड़ जाता है अपनी ईमानदारी से अपने इलाके में जाना जाता है । जी हां कुछ ऐसा ही वाक्य सोमवार सुबह देखने को मिला । नारला निवासी तिलक राज गौतम जब अपने घर से ड्यूटी पर निकला तो रास्ते में उनको नोट से भरा एक बैग मिला । लेकिन तिलक राज का दिल बिल्कुल नही पसीजा ओर नोटों से भरे बैग को उसके मालिक तक पहुचाने की ठान ली । तिलक राज गौतम लोक निर्माण विभाग में कर्मचारी हैं ओर उनका काम नेशनल हाइवे 154 मंडी पठानकोट में है ।  14 मई सुबह ड्यूटी के दौरान उन्हे राष्ट्रीय राजमार्ग 154 मोहड़धार के पास सड़क के किनारे पड़ा एक बैग मिला जब उन्होने बैग खोला तो बैग के अंदर गाड़ी के कागज ,  बैंक की पासबुक, ATM आदि के साथ साथ करीब 34,000 रुपये नकदी पाई गई ! जब उन्होंने बैग के अंदर पासबुक देखी तो उसमें  बैग के मालिक का पूरा पता लिखा था जो द्रंग निवासी एक ट्रक चालक का निकला जिसका नाम जितेंद्र कुमार सपुत्र देवी सिंह निवासी मलोग था । उनसे सीधा संपर्क न होने के कारण नारला निवासी बलदेव सिंह का रिश्तेदार था । शर्मा ने नारला निवाशी बलदेव से सम्पर्क किया और  बैग , बैग के मालिक को लौटा कर तिलक राज गौतम ने अपनी ईमानदारी की मिशाल पेश की । तिलक राज की ईमानदारी की चर्चा पूरे इलाके में आग की तरह फैल गयी है ओर लोग इनकी प्रसंसा कर रहे है । 

अन्य ख़बरें

loading...