खाने के लिए रोटी नही कैसें करवाए उपचार, परिवार की ऐसी घडी में करें मदद

Edited By: संदीप शर्मा,भवारना
अपडेटेड: a week ago IST
Today Top News

पालमपुर के गढ़ से पांच किलो मीटर की दुरी रौडा वार्ड नम्बर दो में बर्फी राम (55)जो अधरंग की बिमारी से ग्रस्त हैं ।जो ट्रांसपोर्ट अमृतसर में कार्यरत थे।लेकिन आँख के आपरेशन के बाद वह अधरंग की बिमारी से ग्रसित हो गए  ।जिनका अब परिवार चलाना मुश्किल सा हो गया हैं ।मगर  बर्फी राम की पत्नी खेती करके घर संभालती है और छोटा बेटा स्कूल जाता है उनकी एक बेटी भी है जिसकी शादी कुछ साल पहले हो चुकी हैं। बर्फी राम अमृतसर ट्रांसपोर्ट में नौकरी करता था लेकिन कागजात के अभाव में उन्हें कोई भी लाभ नहीं मिल पाया घर में खेती करके राशन आता है तो उससे उनका गुजारा चल रहा है वर्फी राम की पत्नी का कहना हैं की  बी पी एल में अभी पंचायत ने नाम डाल दिया हैं।लेकिन अभी तक उन्हें कोई भी सुबिधा नहीं मिली हैं।अब उन्हें और ज्यादा चिंता सताने लगी है महिला के अनुसार घर की अजीविका चलाना मुश्किल सा हो गया है ।वह पहले अमृतसर में कार्य करते थे तो उनका गुजारा चला करता था लेकिन बीमारी के कारण वह अपना मानसिक संतुलन खो बैठे हैं जब घर का मुखिया  संतुलन खो बैठे तो परिवार का पालन पोषण करना मुश्किल सा हो जाता है ।

समाज सेवी संजय शर्मा ने की आर्थिक मदद।
समाज सेवी संजय शर्मा ने बुधवार को उनके घर का दौरा किया व जायजा लिया ।इस दौरान उन्होंने परिवार के लिए आर्थिक मदद की। समाज सेवी संजय शर्मा का कहना है कि उनकी समस्या का निपटारा करने के लिए मैं हरधम तत्पर रहूंगा।

जब इस बारे में ग्राम पंचायत रौड़ा की प्रधान मंजू बाला से बात की गई तो उनका कहना रहा कि अभी अभी उन्हें बी पी एल में डाल दिया गया हैं।जिन्हें पंचायत से फ़ायदा मिलेगा।

अन्य ख़बरें

loading...