खुंडिया तहसील के अधीन जंगल धूं धूं कर जलने लगे

Edited By: त्रिलोक चंद
अपडेटेड: 5 months ago IST
Today Top News

खुंडिया तहसील के अधीन बन बिभाग के जंगल ब लोगों की अपनी घास काटने वाली जमीन जल कर प्रतिदिन राख हो रही है लगभग सत्तर प्रतिशत बन बिभाग के जंगल जलकर राख हो गए हैं  पंचायतों में बन समितियों का गठन किया गया है मगर ये वन विभाग से सड़कों तथा रास्तों के अनापति प्रमाण पत्र लेने तक ही सीमित है सरकार द्वारा  लोगों को मकान बनाने के लिए लकड़ी दी जाती है जंगलों से लोग घास और मबेसियों के लिए लकड़ियां काटते हैं पर आग बुझाने में ग्रामीणों की भूमिका न के बराबर है जिसके कारण जंगल खत्म हो रहे हैं तथा बड़ी संख्या में आग के कारण जंगली जीवोँ की प्रजातियां लुपत हो रही हैं समय रहते बन बिभाग को कोई ठोस पालिसी बनानी होगी ताकि बन संपदा नष्ट होने से बचाई जा सके ग्राम पंचायत घरना की प्रधान नीलम कुमारी ने सरकार प्रेस के जरिए सुझाब दिया है कि उत्तराखंड की तर्ज पर हिमाचल में भी छोटी छोटी बन बीट बनाई जाए ताकि फारेस्ट गार्ड की जबाब देहि सुनिश्चित हो सके उत्तराखंड में एक फारेस्ट गार्ड के अधीन दो किलोमीटर से भी कम एरिया होता है जबकि हिमाचल में बर्तमान में दश से पंद्रह किलोमीटर क्षेत्रफल का एरिया है जिस कारण बो न तो सही तरीके से जंगल की देखभाल कर पाते हैं और न ही बन संपदा बढ़ा पा र

अन्य ख़बरें

loading...