कुल्लू दशहरे में आएंगे 200 देवी-देवता, 11 अक्टूबर से होगा आगाज

Reporter:
अपडेटेड: 2 years ago IST
Subscribe Our Channel for latest News:

एक हप्ते तक चलने वाले अन्तरराष्ट्रीय कुल्लू दशहरा का आगाज 11 अक्टूबर से होगा। जिसमें हिमाचल प्रदेश की कुल्लू घाटी के 200 स्थानीय देवी-देवता भाग लेगें और अन्तर हिमालयाई सांस्कृतिक महोत्सव के लिए देश के विभिन्न पहाड़ी क्षेत्रों, जैसे लेह लद्दाख, अरूणाचल प्रदेश, मणिपुर आदि के सांस्कृतिक दलों को आमंत्रित करने के प्रयास किए जाएंगे। अन्तरराष्ट्रीय कुल्लू दशहरा की राज्यस्तरीय बैठक सचिवालय में आयोजित की गई। बैठक में   मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह सहित प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि कुल्लू दशहरे के दौरान पारम्परिक लोकनृत्य लालड़ी को फिर से शुरू किया जाए। इस नृत्य के दौरान स्थानीय लोग रात भर नाटी का आयोजन करते हैं। इसके अतिरिक्त, ग्रामीण खेल उत्सव के आयोजन के लिए एक समिति का गठन करने का भी निर्णय लिया गया, जो इस दौरान कबड्डी, वॉलीबॉल, रस्साकशी जैसे खेलों का आयोजन करवाएगी। वीरभद्र सिंह ने कहा कि कुल्लू दशहरा अपने स्थानीय देवी-देवताओं और प्राचीन परम्पराओं को ध्यान में रखकर प्राचीन काल से मनाया जा रहा है। यह निचले हिमालयाई क्षेत्र में रहने वाले समुदायों की जीवन शैली को प्रदर्शित करता है।

 

 

रिलेटड वीडियो  

| View All

लेटेस्ट वीडियो  

| View All